मुल्लों से दो-दो हाथ करने वाली बहादुर लड़की को सलाम

केरल के कोझिकोड में स्थित नाद्पुरम में रहने वाली एक लड़की अज्निया अश्मिन को उसी के मुल्ला भाईयों की तरफ से लगातार धमकियाँ मिल रही हैं.

अज्निया का कसूर केवल इतना है कि उसने इस्लाम की मान्यताओं के अनुसार अपना सिर हिजाब से ढँककर नहीं रखा और उसने बिंदी भी लगाई. इसके अलावा अज्निया का दूसरा कसूर ये है कि उसके कुछ हिन्दू मित्र भी हैं. अब बाईस वर्षीय इस मुस्लिम लड़की को इंटरनेट पर लगातार धमकियाँ मिल रही हैं और उसके अश्लील चित्र फ़ोटोशॉप बनाकर फेसबुक पर पोस्ट किए जा रहे हैं.

अज्निया अश्मिन बैंगलोर के एक कॉलेज में क़ानून की पढ़ाई कर रही है, उसने इन धमकियों और प्रताड़ना से घबराने की बजाय गुरूवार को नादपुरम के पुलिस स्टेशन में इन्डियन मुस्लिम लीग और मुस्लिम स्टूडेंट फेडरेशन के कुछ सदस्यों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट कर दी है. पुलिस ने धारा 354(D) के तहत मामला दर्ज कर लिया है और निष्पक्ष जाँच का आश्वासन दिया है. नादपुरम के सब-इंस्पेक्टर अभिलाष ने कहा है कि चूँकि यह केवल इंटरनेट पर धमकी का मामला है, इसलिए पूरे सबूत मिलने के बाद ही दोषियों को पकड़ा जाएगा.

azniya compressed

अज्निया ने प्रेस को बताया कि नाद्पुरम सहित केरल के कई हिस्सों में मुस्लिम लड़कियों के सामने यह समस्या काफी वर्षों से आ रही है. अधिकाँश मुस्लिम लड़कियाँ डर के मारे चुप बैठ जाती हैं, या उनका परिवार ही उन पर दबाव डालता है. मेरे नाम से इन मुल्लों ने दो-दो नकली फेसबुक पेज बनाए और उन पर अश्लील बातें और पोस्टर अपलोड कर दिए हैं. मैं एक खुले विचारों वाली लड़की हूँ और मेरे मित्रों में सभी धर्मों के लोग शामिल हैं, मैं कॉलेज में नृत्य प्रतियोगिता में भी भाग लेती हूँ और सभी धर्मों की इज्जत करती हूँ. वेलेंटाईन डे के दिन से ही ये लोग मुझ पर भड़के हुए हैं, मैंने उस दिन अपनी मित्रों के साथ नाश्ते वाली रेस्टोरेंट की एक तस्वीर फेसबुक पर पोस्ट की थी, बस तभी से ये मेरे पीछे पड़ गए हैं और मुझे गंभीर परिणाम भुगतने की चेतावनी दे रहे हैं.

उल्लेखनीय है कि केरल और बंगाल में तेजी से बढ़ते कट्टर इस्लामीकरण की वजह से ये दोनों ही राज्य तेजी से अशांत होते जा रहे हैं. मोदीजी द्वारा तीन तलाक के मुद्दे पर कदम उठाए जाने की वजह से मुस्लिम खातूनें अब मुखर होने लगी हैं, यह घटना उसी फ्रस्ट्रेशन का नतीजा भी हो सकती है. पुलिस द्वारा अज्निया को पूर्ण सुरक्षा मिलनी चाहिए और जिनके नाम से रिपोर्ट दर्ज हुई है, उनकी जल्द गिरफ्तारी की जाए...इस मामले में भी हमेशा की तरह कथित महिला संगठन, कथित सेकुलर, कथित वामपंथी, कथित मानवाधिकार वाले... इन सभी के मुँह में दही जमा हुआ है...

Tags: desiCNN, Kerala Voilence, Muslims are not minority in India, Islamic threats in Kerala, How to reach Kojhikode,, Kerala tourism

ईमेल