आठ-नौ वर्ष की लंबी कानूनी लड़ाई के पश्चात् हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने यह निर्णय सुनाया है कि केरल स्थित स्वामी पद्मनाभ मंदिर के प्रबंधन एवं निर्णय में त्रावनकोर के महाराज मार्तंड वर्मन राजवंश की ही प्रमुख भूमिका रहेगी। इस निर्णय का सभी सनातनधर्मियों में ह्रदय से स्वागत किया है।

Published in आलेख

आपको केरल के पद्मनाभ स्वामी के मंदिर का स्मरण तो होगा ही... किस तरह से वहाँ के अकूत खजाने को लेकर जाँच हुई.

Published in आलेख

रविवार की तड़के साढ़े तीन बजे पद्मनाभ स्वामी मंदिर के परिसर में भीषण आग लगी हुई देखी गई. एक मंदिर परिसर उत्तरी द्वार के पास में एक गोदाम है, जिसे भारतीय डाक विभाग पार्सल रखने के काम में लेता था और वहीं पर एक पोस्ट ऑफिस भी खोला गया था.

Published in आलेख