जी हाँ!!! पाकिस्तान ढह रहा है. दिवालियेपन की कगार पर पहुंचा यह देश (Pakistan a Failed State) इस बुरी तरह कर्ज के भंवर में फंस गया है कि अब इससे बाहर निकलना इसके बूते से बाहर की बात है. आज की तारीख में पाकिस्तान पर लगभग 9 खरब अमेरिकन डॉलर से भी अधिक का अंतर्राष्ट्रीय कर्ज है (Debt ridden Pakistan) जिसकी तिमाही ब्याज चुकाना भी, अब इसके लिए संभव नहीं हो पा रहा.

Published in आलेख