लगभग एक माह से अधिक होने को आया, बंगाल में इस्लामिक हिंसा और गोरखालैंड में अलग राज्य के माँग को लेकर समूचा उत्तर-पूर्व बेचैन और अशांत है. पिछले शुक्रवार और शनिवार की दरमियानी रात को बंगाल पुलिस द्वारा तीन गोरखा प्रदर्शनकारियों को बड़ी निर्दयता से गोली मार दी.

Published in आलेख
न्यूज़ लैटर के लिए साइन अप करें