सावरकर और गाँधी की तुलना
File Size:
112.00 kB
Date:
23 जनवरी 2017

इस संक्षिप्त और छोटी सी पुस्तिका में वीर सावरकर तथा महात्मा गाँधी के बीच बाकायदा टेबल बनाकर बिन्दुवार एक तुलनात्मक अध्ययन किया गया है, ताकि कुतर्कियों को भी आसानी समझ में आ सके कि वीर सावरकर वास्तव में कितने महान थे और भारत के सेकुलरिज़्म और कथित गांधीवादियों ने उन्हें कितना गलत समझा, कितना गलत चित्रित किया... 

यह पुस्तक मुफ्त एवं मुक्त इंटरनेट वितरण के लिए है, मैं इस ज्ञान को ग्रहण करूँगा एवं दूसरों को भी पढ़ने के लिए प्रेरित करूँगा...
 
 
न्यूज़ लैटर के लिए साइन अप करें