जानिये “तहलका” के कुछ स्टिंग ऑपरेशनों के बारे में, जो कभी नहीं किये जायेंगे…... Tehelka Sting Operation Pramod Muthalik

Written by सोमवार, 07 जून 2010 14:06
कुछ दिनों पहले तरुण तेजपाल के “तहलका” और “आज तक” ने कर्नाटक में प्रमोद मुतालिक और उसके साथियों का एक स्टिंग ऑपरेशन किया था, जिसमें दिखाया गया था कि मुतालिक और उसके आदमी 50 लाख रुपये लेकर दंगे करवाते हैं, रुपयों की खातिर प्रदर्शन-तोड़फ़ोड़ और हिंसा आदि करते हैं। इस आधार पर तहलका ने माँग की कि कर्नाटक की भाजपा सरकार को इस्तीफ़ा दे देना चाहिये।

भाजपा-संघ-हिन्दुत्ववादी संगठन-विभिन्न हिन्दू धर्माचार्य-नरेन्द्र मोदी-प्रमोद मुतालिक-प्रवीण तोगड़िया इत्यादि लोग हमेशा से इलेक्ट्रानिक और प्रिण्ट मीडिया के निशाने पर रहे हैं। स्टिंग ऑपरेशन होगा तो बंगारु लक्ष्मण का, स्टिंग ऑपरेशन होगा तो दिलीप सिंह जूदेव का, लोकसभा में पैसा लेकर वोट देने में मुरैना के सांसद का भी होगा, चैनल पर लगातार दो-दो दिन तक आलोचना की जायेगी तो नरेन्द्र मोदी की, गुजरात में जाफ़री परिवार को जलाने वाले(?) किसी तथाकथित बजरंग दल कार्यकर्ता(?) का स्टिंग ऑपरेशन तो अवश्य ही होगा… तात्पर्य यह कि अब देश की जनता को स्टिंग ऑपरेशनों की आदत सी पड़ गई है।

हमारा मीडिया, नरेन्द्र मोदी से इस्तीफ़ा माँग-माँग कर थक चुका, एक तो नरेन्द्र मोदी किसी मीडिया वाले को पैसा नहीं खिलाते… भाव नहीं देते, उलटे उन्हें दुत्कार-दुत्कार कर लतियाते अलग से हैं… तो अब मीडियाई जोकरों ने कर्नाटक की तरफ़ रुख किया है।

1) पब में दारू पीती लड़कियों को गुण्डों ने पीटा – भाजपा इस्तीफ़ा दो,

2) प्रमोद मुतालिक का मुँह काला किया गया… भाजपा इस्तीफ़ा दो,

3) प्रमोद मुतालिक के गुण्डे 50 लाख में दंगे करवाते हैं… - भाजपा इस्तीफ़ा दो,

4) रेड्डी बन्धुओं और येदियुरप्पा के बीच खदान लाईसेंस को लेकर साँठगाँठ है… - भाजपा इस्तीफ़ा दो…

फ़िर चैनल पर दिन भर… ब्ला ब्ला ब्ला ब्ला, बड़-बड़-बड़-बड़-बड़…

पहले गुजरात सरकार और नरेन्द्र मोदी के इस्तीफ़े की माँग सुन-सुनकर कान पक गये थे, अब कर्नाटक सरकार के इस्तीफ़े की माँग सुनते-सुनते दिमाग सुन्न होने लगा है…

लीजिये अब आपकी सेवा में पेश हैं तहलका, नेहरु डायनेस्टी टीवी और 5M (मार्क्स, मुल्ला, मिशनरी, मैकाले, माइनो) के हाथों बिके हुए मीडिया के उन स्टिंग ऑपरेशनों की सूची, जो कभी नहीं होने वाले… न तो कभी इन मुद्दों पर कोई भी एंकर, आड़े-तिरछे मुँह बनाकर भड़ासेगा, न ही कभी कोई इस्तीफ़ा माँगा जायेगा, न ही किसी जवाबदार का इंटरव्यू लिया जायेगा… क्योंकि कम से कम मीडिया को इंटरव्यू के मामले में सोनिया गाँधी की स्थिति नरेन्द्र मोदी जैसी ही है, जहाँ एक ओर नरेन्द्र मोदी मीडिया को हड़काये कुत्ते की तरह दुरदुराते हैं, वहीं दूसरी ओर सोनिया गाँधी, मीडिया को अपने पालतू कुत्ते जैसा रखती हैं, जो उनको छोड़कर बाकी सभी पर भौंकता-काटता है।

1) महंगाई क्यों बढ़ी? इसके लिये कभी भी शरद पवार-मनमोहन सिंह या प्रणब मुखर्जी का स्टिंग ऑपरेशन नहीं होगा।

2) टेलीकॉम घोटाले ने सरकार को सरेआम नंगा किया हुआ है, लेकिन तहलका, कभी भी मनमोहन सिंह, करुणानिधि, राजा बाबू का स्टिंग ऑपरेशन नहीं करेगा।

3) क्वात्रोची को सीबीआई की मदद से क्लीन चिट दिलवा दी, कोई स्टिंग ऑपरेशन नहीं…

4) स्विस बैंक में खरबों रुपया जमा है, किसी एक कांग्रेसी का भी स्टिंग ऑपरेशन नही…

5) लोकसभा में सरकार बचाने के लिये अमरसिंह सहित कई सांसदों को खरीदा गया, कोई इस्तीफ़ा नहीं…

6) चीन द्वारा रक्षा कम्प्यूटरों में सेंध और डाटा हैकिंग के पर्याप्त सबूत मिले, कोई स्टिंग नहीं, प्रधानमंत्री का इस्तीफ़ा भी नहीं…

7) परमाणु समझौता करके अमेरिका और यूरोप से पुरानी सड़ी हुई भट्टियाँ खरीदने के लिये सरकार बेताब है… तहलका सोया हुआ है।

8) यही परमाणु समझौता अब पाकिस्तान जैसे भिखारी को भी मिलने वाला है, "आज तक" के कर्णधार पता नहीं क्या कर रहे हैं…

9) दंतेवाड़ा में 76 जवानों की हत्या हो गई, चिदम्बरम का स्टिंग ऑपरेशन देखा कभी आपने?

10) मधु कौड़ा, सुनन्दा पुष्कर, ललित मोदी, सेमुअल राजशेखर रेड्डी, नीरा राडिया, कणिमोझी के कितने स्टिंग ऑपरेशन देखे हैं आपने?

11) टेलीकॉम घोटाले के दस्तावेजों में “बुरका” दत्त और वीर संघवी के नाम आये हैं… अपनी बिरादरी के खिलाफ़ स्टिंग ऑपरेशन की हिम्मत है तहलका में?

12) गृह मंत्रालय ने स्वीकार किया है कि देश के 180 जिलों में माओवादियों का गहरा प्रभाव है… कभी किसी मंत्री को शर्म आई? या किसी ने इस्तीफ़ा दिया? क्या शर्म और इस्तीफ़ा सिर्फ़ नरेन्द्र मोदी के लिये ही रिजर्व है?

13) नंदीग्राम और सिंगूर में माकपा के गुण्डों ने महिलाओं और बच्चों को भी नहीं बख्शा, कभी किसी ने बुद्धदेव भट्टाचार्य का स्टिंग ऑपरेशन देखा हो तो बतायें…

14) पश्चिम बंगाल और असम के कई जिले पिछले 10 साल में अचानक मुस्लिम बहुल कैसे बन गये? तरुण तेजपाल कभी उधर जाते भी हैं या सिर्फ़ गुजरात में ही बैठे रहते हैं?

15) कश्मीर में सेना के जवानों पर पत्थर फ़ेंकने के लिये “गुमराह लड़कों”(?) को जो पैसा दिया जाता है, उसमें उच्च स्तर पर लेन-देन हुआ है… NDTV ने कभी किसी स्टिंग के जरिये, कश्मीर की वास्तविक ज़मीनी स्थिति जानने की कोशिश की है?

16) अफ़ज़ल गुरु की फ़ाँसी वाली फ़ाइल को किसने चार साल तक रोके रखा? तरुण तेजपाल जी, कभी शीला दीक्षित का भी स्टिंग ऑपरेशन कर डालिये… कश्मीरी पण्डित वर्षों से नारकीय जीवन जी रहे हैं, कभी भाजपा से फ़ुरसत मिले, तो राहुल गाँधी से उनके "राजनैतिक ज्ञान" के ब्यौरे का स्टिंग ही कर डालिये…

17) कॉमनवेल्थ नामक “गुलामी के खेलों” पर खरबों रुपया बहाया जा चुका है, इसमें से कलमाडी ने कितना, शीला ने कितना और बिल्डरों ने कितना खाया, NDTV-आज तक वाले कभी इस पर भी स्टिंग ऑपरेशन करेंगे क्या?

18) मणिपुर की जनता पिछले 2 माह से राशन-पानी के लिये त्राहि-त्राहि कर रही है, इटली की महारानी ने समूचा उत्तर-पूर्व, ईसाई उग्रवादी संगठनों को दान में देने की ठान ली है… तेजपाल जी, अपना स्टिंग लेकर, कभी उधर की ठण्डी हवा भी खाकर आईये ना… कर्नाटक और गुजरात के मुकाबले अच्छा मौसम है उधर।

लिस्ट तो बहुत लम्बी है, लेकिन दुर्भाग्य से इसमें से एक भी स्टिंग ऑपरेशन आप कभी भी नहीं देख पायेंगे, क्योंकि जैसा कि पहले ही कहा गया है,  स्टिंग ऑपरेशन कांग्रेस और सहयोगी दलों के लिये नहीं होते हैं। तो क्या यह माना जाये कि “तहलका” और NDTV जैसे सरकारी चमचे, सिर्फ़ कांग्रेस और सोनिया गाँधी की चापलूसी ही करते रहेंगे? ठीक नवीन चावला की तरह, जिसे उसके तमाम काले कारनामों के बावजूद “एक विशेष मकसद” के लिये मुख्य चुनाव आयुक्त बनाया गया है?

मुझे पूरा भरोसा है कि जिस दिन स्विस बैंक द्वारा भ्रष्ट भारतीयों की लिस्ट जारी की जायेगी (हालांकि ऐसा कभी होगा नहीं), तो उसमें तरुण तेजपाल का नाम भी निकलेगा। अब यह पता करने के लिये, कि आखिर तहलका, NDTV इत्यादि को कांग्रेस से कितना पैसा मिलता रहा है, एक अदद स्टिंग ऑपरेशन की सख्त जरूरत है। कोई है? जो यह करे…
==============

चलते-चलते : तहलका ने आरोप लगाया है कि प्रमोद मुतालिक, 50 लाख रुपये लेकर दंगा करवाता है… क्या आपको ये "रेट्स"(?) ज्यादा नहीं लगते? 50 लाख तो बहुत ज्यादा होता है यारों…… जब सिर्फ़ “इस्लाम खतरे में है…” सुनकर, या 72 हूरों के “काल्पनिक लालच” भर से बरेली और हैदराबाद में जमकर फ़्री-फ़ोकट में जमकर दंगे हो रहे हैं, तो ऐसे में दंगे करवाने के लिये 50 लाख देने वाला कोई बेवकूफ़ ही होगा… है ना?


Tehelka Sting Operations, Aaj Tak, NDTV and Electronic Media Character, Tehalka Tarun Tejpal and Hindutva, Congress Corruption and Sting Operations, Media and Sting Operation Technique, Pramod Mutalik and Narendra Modi, Telecom Scam, Kashmir and Tehelka, Church’s Role in Electronic Media, तहलका स्टिंग ऑपरेशन, आज तक, NDTV और इलेक्ट्रानिक मीडिया चरित्र, प्रमोद मुतालिक और नरेन्द्र मोदी, गुजरात भाजपा और तहलका, Blogging, Hindi Blogging, Hindi Blog and Hindi Typing, Hindi Blog History, Help for Hindi Blogging, Hindi Typing on Computers, Hindi Blog and Unicode
Read 534 times Last modified on शुक्रवार, 30 दिसम्बर 2016 14:16
Super User

 

I am a Blogger, Freelancer and Content writer since 2006. I have been working as journalist from 1992 to 2004 with various Hindi Newspapers. After 2006, I became blogger and freelancer. I have published over 700 articles on this blog and about 300 articles in various magazines, published at Delhi and Mumbai. 


I am a Cyber Cafe owner by occupation and residing at Ujjain (MP) INDIA. I am a English to Hindi and Marathi to Hindi translator also. I have translated Dr. Rajiv Malhotra (US) book named "Being Different" as "विभिन्नता" in Hindi with many websites of Hindi and Marathi and Few articles. 

www.google.com