हाल ही में एक प्रसिद्ध पत्रिका “आउटलुक” ने अपनी एक रिपोर्ट में दावा किया है कि भारत के पूर्व राष्ट्रपति केआर नारायणन अपने अंतिम समय से पहले हिन्दू दलित नहीं रह गए थे, बल्कि वे “कन्वर्टेड ईसाई” बन चुके थे.

Published in आलेख

हाल ही में केन्द्र सरकार ने विभिन्न संगठनों की माँग पर 2011 की जनगणना के धर्म संबंधी आँकड़े आधिकारिक रूप से उजागर किए हैं. जैसे ही यह आँकड़े सामने आए, उसके बाद से ही देश के भिन्न-भिन्न वर्गों सहित मीडिया और बुद्धिजीवियों में बहस छिड़ गई है. हिन्दू धार्मिक संगठन इन प्रकाशित आँकड़ों को गलत या विवादित बता रहे हैं, क्योंकि आने वाले भविष्य में इन्हीं का अस्तित्त्व दाँव पर लगने जा रहा है.

Published in ब्लॉग