"आदर्श लिबरल" (यानी छद्म प्रगतिशील) की पहचान

Written by मंगलवार, 24 मार्च 2015 12:27

#Adarsh_Liberal इस हैशटैग के साथ अंग्रेजी भाषा में लगातार "आदर्श लिबरल" की जमकर बखिया उधेड़ी जा रही है. बजाने का यह काम हिन्दी में हम पहले से ही "छद्म प्रगतिशील" (छद्म सेकुलर) कहकर करते आ रहे हैं. फिर भी संक्षेप में थोड़ा और परिचय दे दूँ.

"आदर्श लिबरल" वह व्यक्ति होता है जो रात को सोते समय RSS को गाली देकर सोता है, सुबह उठकर "हिंदुत्व" को गाली देने के बाद ही मुँह धोता है और दोपहर में मोदी को कोसने के बाद ही उसका खाना पचता है. Adarsh Liberal के परिवार में कम से कम एक व्यक्ति "गे" या "लेस्बियन" होता है, और एक कम से कम व्यक्ति "भगवान एवं भारतीय संस्कारों को नकारते हुए नास्तिक" कहलाना पसंद करता है...

AL 1


एक Adarsh Liberal की "दिमागी संरचना" कुछ इस प्रकार होती है... (केजरीवाल की खोपड़ी खोलोगे तो "लगभग-लगभग" ऐसी ही निकलेगी).

AL 2


इस संक्षिप्त प्रस्तावना से अब Adarsh Liberal "प्रजाति" का बेसिक स्वरूप तो आप समझ ही गए होंगे. चूँकि समय की कमी है, इसलिए एक और छोटा उदाहरण देकर अंत करता हूँ...

यदि RSS कहे कि "सूअर का गू" बेहद बुरी चीज़ है, तो Adarsh Liberal रोमिला थापर से लेकर बिपन चंद्रा के नकली इतिहास का रेफरेंस देकर यह सिद्ध करने की पुरज़ोर कोशिश करेगा कि सूअर का गू बेहद पौष्टिक होता है. शरीर के किसी हिस्से में मोमबत्ती खोंसे हुए कुछ अति-उत्साही Adarsh Liberal तो सूअर का गू खाकर यह सिद्ध देंगे कि संघ झूठा है... और निश्चित ही इसके पीछे उसका कोई साम्प्रदायिक एजेंडा है. होली पर पानी बचाओ और बकरीद पर चुप्पी साध लो... तथा PETA के विज्ञापन करो लेकिन गौमांस का समर्थन करो... Adarsh Liberal की खास पहचान हैं...अर्थात Adarsh Liberal = देश जाए भाड़ में - "एजेंडा" ऊँचा रहे हमारा...

==========================
"छद्म प्रगतिशील" की कथाएँ अनंत हैं... इसलिए मोह संवरण नहीं कर पा रहा... तो एक और संक्षिप्त सा परिचय..

- शशिकपूर को दादासाहब फाल्के पुरस्कार मिला...
Adarsh Liberal कहेगा :- जरा पता लगाओ कि शशिकपूर का RSS कनेक्शन क्या है?

Read 488 times Last modified on मंगलवार, 14 फरवरी 2017 21:50